भारत में आयात-निर्यात का बिज़नेस कैसे करें ? Import Export small business ideas in hindi

Small import export business ideas in Hindi | भारत में आयात निर्यात का बिज़नेस कैसे शुरू करें

Table of Contents

भारत में आज small import export business ideas दिन प्रतिदिन जोर पकड़ रहा है। कहने का अर्थ ये है कि भारत में आयात और निर्यात का व्यवसाय एक प्रसिद्ध बिज़नेस बन चूका है।  लोगों का इस small business की रुख करने का सबसे बड़ा कारण ये भी है कि इस बिज़नेस में काफी ज्यादा मुनाफा होता है।

आयात निर्यात का बिज़नेस साधारणतय एक ऐसा बिज़नेस है जिसमे किसी वस्तु वास्तु को किसी अन्य देश में भेजना या फिर किसी वस्तु को किसी अन्य देश से अपने देश में लाना।

आज भारत में कई लोग ऐसे होंगे जो small import export business शुरू करना चाहते हैं परन्तु उनको इस business का पूरा idea नहीं होता है।  उनको पूरी जानकारी नहीं होती कि शुरू लिया जाए, किस प्रोडक्ट का import export business शुरू किया जाए।

इस पोस्ट में हम कुछ small import export business ideas साँझा करेंगे।  जिनसे आपको इस बिज़नेस की काफी जानकारी मिल जाएगी।

भारत में आयात निर्यात (Import Export) का बिज़नेस कैसे शुरू करें

भारत में विदेशी व्यापार का पूरा नियंत्रण विदेश व्यापार महानिदेशालय (Directorate General of Foreign Trade) ने अपने हाथों में रखा है। अगर आप आयात-निर्यात (Import Export) का बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको इस विभाग से IEC और लाइसेंस लेना जरुरी होता है।  इसके बिना आप ये बिज़नेस शुरू नहीं कर सकते हैं।

  • भारत में import-export कंपनी रजिस्टर करने के लिए सबसे पहले आपको अपनी कंपनी का नाम का चयन करना पड़ता है, और application form पर अपनी कंपनी का नाम भरकर Ministry of Corporate Affairs के ऑफिस में जमा करवाना होता है।
  • कम्पनी का पंजीकरण करने के बाद आपके पास करंट बैंक अकाउंट होना चाहिए ताकि आप विदेशी मुद्रा का लेन देन आसानी से कर सकें।
  • जब आपके पास अपना बैंक अकाउंट खुल जाए तो आप IEC कोड के लिए apply कर सकते हैं।  ये एक 10 अंकों का कोड होता है।
  • IEC कोड के लिए आप इसकी DGFT की वेबसाइट से अप्लाई कर सकते हैं।
  • एक बार आपके पास IEC कोड प्राप्त हो जाए तो आप अपना import export का बिज़नेस शुरू कर सकते हैं।

IEC कोड प्राप्त करने के लिए कुछ जरुरी दस्तावेज

  1. IEC कोड प्राप्त करने के लिए आपके पास PAN कार्ड होना जरुरी होता है।
  2. आपके पास किसी भी बैंक का current account होना चाहिए।
  3. बैंक से सम्बंधित सभी Certificates.
  4. नए IEC के लिए apply करने के लिए आपके पास कंपनी के लेटर हेड पर कवरिंग लेटर होना जरुरी होता है।
  5. बिज़नेस करने वाले के signature किये हुए application.

आयात-निर्यात (Import Export) का बिज़नेस शुरू करने से पहले कुछ जरुरी बातें

1. सही उत्पाद का चयन:- Import export का बिज़नेस शुरू करने से पहले आपको प्रोडक्ट्स का ज्ञान होना चाहिए कि कौन से product का व्यापार करना है। आपको इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का पूरा ज्ञान होना चाहिए।

2. खरीददार और विक्रेता की जानकारी:- सबसे जरुरी बात है कि आप जिस प्रोडक्ट का बिज़नेस करने जा रहे हैं उसके विक्रेता की detail आपके पास होना जरुरी होती है। आपको पुरे दश में खरीददार और विक्रेता मिल सकते हैं। इस बिज़नेस को अच्छी तरह से बढ़ने के लिए आप एक अच्छी वेबसाइट बनाकर, उसके माधयम से अपने प्रोडक्ट्स को प्रमोट भी कर सकते हैं।

3. बाजार में प्रोडक्ट्स की मांग

जिन प्रोडक्ट्स का import export business आप शुरू करने जा रहे हैं उन प्रोडक्ट्स की बाजार में मांग, प्रतिस्पर्धा आदि चीजों का पता होना चाहिए। ये भी मालूम होना चाहिए की मार्किट में उस प्रोडक्ट की कितनी मांग है। जरुरत से ज्यादा मंगवाने पर नुक्सान भी हो सकता है।

Small and Big Import Export Business ideas in India in Hindi

#1 कॉफ़ी का export business

कॉफ़ी का export business कॉफ़ी की मांग को अगर भारत में ही देखा जाए तो इसको मांग काफी जयादा है। ओस अगर हम भारत से बाहर अन्य देशों की बात करें तो इसकी मांग बहुत अधिक है। इसकी मांग की बढ़ोतरी एक्सपोर्ट के बिज़नेस को बढ़ावा देता है।

कॉफ़ी की प्रोडक्शन की बात की जाए तो पुरे विश्व में भारत छठे स्थान पर है। और ये एक बहुत बड़ी प्रोडक्शन मानी जाती है। अतः कॉफ़ी एक्सपोर्ट का बिज़नेस आप पुरे विश्व भर में बड़े ही फायदे के साथ कर सकते हैं। अतः कॉफ़ी एक्सपोर्ट का बिज़नेस एक अच्छा विकल्प है।

#2 इलेक्ट्रॉनिक और इलेक्ट्रिकल इम्पोर्ट बिज़नेस

आज के समय में जैसा की हम जानते हैं कि, electronics & Electrical चीजों जैसे मोबाइल, टेलीविज़न, रेफ्रिजरेटर और भी बहुत साड़ी चीजें हैं जिनकी मांग भारत में बहुत ज्यादा है। ये हर रोज बहुत बड़ी मात्रा में खरीदे जाते हैं।

अगर आप import business idea धुंध रहे हैं तो electronics & Electrical business idea बहुत ही बढ़िया आईडिया है। इसमें कोई शक नहीं है कि इस बिज़नेस को बहुत ही बड़ी इन्वेस्टमेंट के साथ शुरू किया जाता है परन्तु investment के साथ अगर फायदा भी देखा जाए तो वो भी काफी ज्यादा है।

#3 उर्वरक आयात (Fertilizer Import)

भारत की अर्थव्यवस्था काफी हद तक कृषि पर निर्भर है। और इस कृषि को अच्छे से चलने के लिए किसानो को उर्वरकों की जरुरत रहती है ताकि वह अच्छे से अच्छे फसल का उत्पादन कर सके।

भारत में उर्वरक की मांग काफी ज्यादा है क्यूंकि भारत में लोकल उर्वरकों को तैयार किया जाता है परन्तु किसानो का मानना है कि इन उर्वरकों से बाहर की उर्वरक में अच्छी किस्म पायी जाती है। अतः भारत में अगर उर्वरक आयात का बिज़नेस एक अच्छा small business idea है।

#4 मशीनरी आयात का बिज़नेस (Machinery Import

भारत में इंडस्ट्रियल बिज़नेस दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। इन बिज़नेस को चलने के लिए machinery की जरुरत पड़ती है। और भारत में इतनी machinery उपलब्ध नहीं है की इनकी पूर्ति हो सके। अतः इसके लिए भारत को आयात की जरुरत पड़ती है। जो एक अच्छे बिज़नेस को जन्म देती है।

अगर आपको इन machinery का पूरा गया है तो आप इस बिज़नेस में अपना सिक्का आजमा सकते हैं। इस बिज़नेस में भी इन्वेस्मेंट काफी ज्यादा करनी पद सकती है।

#5 सूती धागे का निर्यात 

भारत को सूती धागे का गढ़ माना जाता है। कहने का अभिप्राय ये है की सूती धागा भारत में काफी ऊँचे स्तर पर तैयार किया जाता है। सूती धागे की मांग भारत से बाहर काफी ज्यादा है। अतः अगर सूती धागे के निर्यात का बिज़नेस किया जाए तो काफी फादेमंद साबित हो सकता है।

सूती धागे का इस्तेमाल सूती कपडे बनाने में किया जाता है। अगर उत्पादन की बात की जाये तो भारत सूती धागे के उत्पादन की दृष्टि से दुनिया में दूसरे स्थान पर है। USA, Spain, China, Japan आदि देश सबसे बड़े आयातक हैं। इस बिज़नेस का बड़ा फायदा ये है की इस बिज़नेस को low investment के साथ भी शुरू किया जा सकता है।

#6 मसाले निर्यात का बिज़नेस (Spice Export)

इस बात के बारे में हम भली भांति जानते हैं कि भारत मसाले का एक प्रसिद्ध उत्पादक है और भारत के मसाले पूरी सुनिया भर में काफी प्रसिद्ध हैं। भारतीय मसाले की international मार्किट में भी काफी अधिक है। अतः अगर मसाले के निर्यात का बिज़नेस किया जाए तो ये काफी अच्छा विकल्प है।

भारत हर साल मसाले के निर्यात का बिज़नेस काफी ऊँचे स्तर पर करता है और ऐसा माना जाता है कि ये बिज़नेस आने वाले समय में और भी अधिक बढ़ने वाला है।

#7 चाय के निर्यात का बिज़नेस (Tea Export Business)

कोई भी ऐसा देश ऐसा नहीं होगा जंहा पर चाय का इस्तेमाल नहीं किया जाता हो। यही चीज चाय की मांग को बढाती है। भारत की अर्थव्यवस्था काफी ज्यादा इन चीजों के साथ सुदृढ़ बन रही है। भारत में विभिन्न प्रकार की चाय का उत्पादन किया जाता है जैसे ग्रीन टी, हर्बल टी, ब्लैक टी इत्यादि।

अतः अगर आप भारत में एक्सपोर्ट का बिज़नेस करने की सोच रहे हैं तो चाय के निर्यात का एक बेहतरीन बिज़नेस आपका इन्तजार कर रहा है। इस बिज़नेस में निवेश के साथ साथ काफी मुनाफा हो सकता है।

#8 चीनी का निर्यात (Sugar Export)

अन्य बिज़नेस के साथ चीनी के निर्यात का भी एक बिज़नेस विकल्प है जो भारत में बहुत ही अच्छा फायदे के साथ किया जा सकता है। अन्य देशों के अपेक्षा भारत को चीनी का एक बहुत बड़ा उत्पादक देश माना जाता है। चीनी का निर्यात हम अपने पडोशी देशों के साथ कर सकते हैं।

#9 रेडीमेड garments आयात निर्यात

भारत में रेडीमेड garments के import export business भी काफी अच्छे से किया जा सकता है। भारत अन्य देशों की अपेक्षा सस्ता कपडा उत्पादक देश है। इसका सबसे बड़ा कारन ये है कि भारत में श्रम की उपलब्धता काफी सस्ती है। अतः आयात निर्यात के बिज़नेस के लिए रेडीमेड गारमेंट्स का एक अच्छा विकल्प है।

#10 चमड़े के निर्यात व्यवसाय

पूरी दुनिया में चमड़े के बने प्रोडक्ट्स की मांग दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। चमड़े से कई ऐसी चीजें बनती है जिनकी मांग हर मार्किट में काफी ज्यादा है। जैसे चमड़े की कोट, जूते और पर्स इत्यादि। अन्य देशों के साथ भारत भी चमड़े का उत्पादन करता है। चमड़े का उत्पादन अच्छा होने के कारण भारत इसका निर्यात भी करता है।

भारत में चमड़े का उत्पादन होता है उसका 38% भाग का निर्यात भारत ब्रिटेन और जर्मनी, अमेरिका के साथ करता है।

#11 फलों और सब्जियों का निर्यात

भारत अन्य उत्पादों के साथ साथ सब्जी और फलों का भी एक अच्छा निर्यात है। भारत में आजकल सब्जी और फलों का उत्पादन इतना बढ़ गया है इस इन चीजों का निर्यात USA, Russia, China जैसे देशों को करना पड़ता है। अतः सब्जी और फलों के निर्यात का बिज़नेस भी एक अच्छा मुनाफे वाला बिज़नेस बन सकता है।

#12 शहद का निर्यात

भारत के प्राकृतिक शहद की मांग इंटरनेशनल मार्किट में काफी अधिक है। खासकर USA में भारतीय शहद की मांग इतनी ज्यादा है की अगर इसका निर्यात का बिज़नेस शुरू किया जाए तो काफी ज्यादा फायदा हो सकता है। USA के अलावा नेचुरल शहद का आयात Canada, कतर, संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब में भी किया जाता है।

#13 साबुन और cosmetic सामग्री का निर्यात

अगर आप आयात निर्यात के बिज़नेस की सोच रहे हैं तो साबुन और cosmetic सामग्री का निर्यात का बुसिनेस भी एक बहुत ही अच्छा विकल्प है। cosmetic प्रोडक्ट्स की मांग इतनी ज्यादा बढ़ रही है की इस बिज़नेस के साथ बहुत ही ज्यादा मुनाफा किया जा सकता है।

#14 Milk products निर्यात business

भारत Milk products का भी एक बहुत बड़ा उत्पादक देश है। बहुत अधिक उत्पादन होने के कारण भारत को इसका निर्यात करना ही पड़ता है। और मात्रा पर इन प्रोडक्ट्स का निर्यात यूएई, बांग्लादेश, सिंगापुर और नेपाल आदि देशों में किया जाता है।

#15 दालों का निर्यात (Pulse Export Business)

भारत अनाज का भी एक बड़ा उत्पादक और निर्यात है। अनाज के निर्यात की मांग के साथ इसका बिज़नेस भी काफी ज्यादा बढ़ रहा है। हर साल भारत अनाज के निर्यात के साथ काफी ज्यादा कमाई करता है। अतः अगर इस बिज़नेस को किया जाये तो अच्छा मुनाफा कमाया जाता है।

अगर आप import export business ideas ढूंढ रहे हैं तो हमने कुछ ideas Hindi में शेयर किये हैं। आप इन बिज़नेस में से किसी एक बिज़नेस को अपने बजट और मांग के हिसाब से चुन सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top
error: Content is protected !!